हमारे जीवन में जो कुछ भी होता है उन सभी में हमारे भरोसे का बहुत बड़ा योगदान होता है |

सच मानिये सब कुछ सिर्फ हमारे भरोसे पर ही टिका होता है |

यदि बस के ड्राईवर की छमता  पर आप भरोसा करके नहीं बैठे, तो आपका गंतव्य स्थान तक सकुशल पहुचना थोडा  कठिन हो जाता है |

जिस पर भी आप भरोसा करे पूरा करे | सबसे पहले अपने आप पर भरोसा करने से शुरुआत कीजिये |

जो भी आपकी छमता  है उस पर पूरा भरोसा रखे |

यह  भरोसा आपकी छमता  को और  बढाएगा |

किसी के भी कहने पर आप स्वयं को कमज़ोर  ना माने |

गौर करे तो पाएंगे की हमारी कमजोरी  का दुसरे लोग भरपूर फायदा  उठाते  है , और उन्हें ऐसा करने की इज़ाज़त, अनजाने में हम ही देते  है |

आज की प्रतिस्पर्धी जीवनशैली  में कोई किसी के बारे में अच्छी राय रखे ज़रूरी नहीं है,  किन्तु सभी ऐसे ही लोग हो यह भी ज़रूरी नहीं है |

आप अपने ऊपर,अपनी छमता के ऊपर,अपने गुरु  के ऊपर, उस ईश्वरीय शक्ति के ऊपर पूरा भरोसा रखे कि, कोई कुछ भी करे, ये आपका बुरा होने नहीं  देंगे |

अगर आपका भरोसा पक्का रहा तो यक़ीनन कोई आपका बुरा नहीं कर पायेगा | बस शर्त यही है कि आपसे भी किसी का बुरा ना हो |