मार्च में इन त्‍योहारों में हो शामिल Festival Destinations To Travel In March In India

0
13


होली

होली

P.C: Maxime Bhm

पारंपरिक रूप से हर साल मार्च में पूर्णिमा तिथि को होली का त्‍योहार मनाया जाता है। ये त्‍योहार दो दिनों तक चलता है। ये हिंदुओं का प्रमुख त्योहार है जिसे रंगों से मनाया जाता है। इसके अलावा होली भारत का सबसे प्रतिष्ठित त्योहार है। इसे देशभर में पूरी धूमधाम और उल्‍लास के साथ मनाया जाता है। होली का त्यौहार वसंत के मौसम में आता है। हर शहर की गलियों और कोनों में रंग फैले हुए मिलते हैं। इसे प्रेम के त्योहार के रूप में मनाया जाता है और यह समय पूरे भारतीय कैलेंडर में सबसे रंगीन समय में से एक है। होली पर सभी एक-दूसरे को रंग लगाते हैं।

कब: 20 और 21 मार्च 2019

कहां: पूरे भारत में।

म्‍योको

म्‍योको

P.C: Jess Lindner

अरुणाचल प्रदेश के जिरो में म्‍योको त्‍योहार मनाया जाता है। इस स्‍थान पर संस्कृति और प्रकृति दोनों का मेल देखने को मिलता है। ये अपाटनी जनजाति का पारंपरिक आदिवासी उत्सव है। इस उत्‍सव में दिलचस्प अनुष्ठानों, जुलूसों और प्रदर्शनों के विविध रंग देखने को मिलते हैं। इस त्योहार में किए गए अनुष्ठान समृद्धि, प्रजनन,शुद्धि और बलिदान का प्रतीक हैं। उत्‍सव में अनुष्‍ठान गांव के शमाम या पुजारी द्वारा किए जाते हैं। इस उत्‍सव में शामलि होने के बहाने आप यहां की मेहमान नवाजी और स्थानीय लोगों से भी मिल सकते हैं।

कब: 20 से 30 मार्च 2019

कहां: जिरो, अरुणाचल प्रदेश

कोंकण वेलास टर्टल फेस्टिवल

कोंकण वेलास टर्टल फेस्टिवल

P.C: Ricardo Braham

समुद्री कछुओं में से ओलिव रिडले सबसे छोटे कछुओं की प्रजाति है जोकि अब विलुप्त होती जा रही है। कोंकण वेलस टर्टल फेस्टिवल इन उम्रदराज जलीय जीवों के लिए एक उत्साहवर्द्धक उत्‍सव है। 220 मिलियन वर्षों से कछुओं की ये प्रजाति महासागर में रह रही है। इस वार्षिक कछुआ महोत्सव में ओलिव रिडले के बच्‍चे यानि छोटे कछुए सागर में अपना पहला कदम रखते हैं।

कब: मार्च की शुरुआत में, सही समय के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर देखें

कहां: वेलास गांव, रत्‍नागिरि, महाराष्‍ट्र

मेवाड़ होलिका दहन

मेवाड़ होलिका दहन

P.C: Kaung Myat Min

मेवाड़ के राजपरिवार द्वारा शानदार होलिका दहन समारोह का आयोजन किया जाता है। इसमें लकड़ी और सूखे अलाव लगाए जाते हैं। होलिका दहन उस अवसर का प्रतीक है जो बुराई पर अच्‍छाई की विजय की याद दिलाता है। यहां होली के दौरान जुलूस निकलता है जिसमें मेवाड़ परिवार के शाही परिवार से सजे हुए घोड़े मानेक चौक की गलियों तक आते हैं। इस तरह होली का त्‍योहार आपको कहीं और देखने को नहीं मिलेगा।

कब: 20 मार्च 2019

कहां: सिटी पैलेस, उदयपुर, राजस्‍थान

गोवा कार्निवल

गोवा कार्निवल

P.C: Ryan Wallace

गोवा की सबसे बड़ी और अच्छी पार्टी में सबसे ऊपर गोवा कार्निवल का नाम आता है। अपने औपनिवेशिक अतीत और स्थानीय समारोहों के लिए मशहूर गोवा का रूप कार्निवल के दौरान पूरी तरह से बदल जाता है। इस कार्निवल में झांकियां निकलती हैं और रंग-बिरंगी वेशभूषा के साथ नर्तक, संगीत और ताल का संगम देखने को मिलता है। आप भी इस परेड का हिस्‍सा बन सकते हैं। परेड औपचारिक रूप से रेड और ब्लैक डांस के साथ संपन्न होती है और इसका ड्रेस कोड लाल और काला है। यह 4-5 दिनों का कार्निवल है। मार्च के महीने में आप इस कार्निवल में शामिल हो सकते हैं।

कब: 2 से 5 मार्च 2019

कहां: कार्निवल परेड पणजी से शुरु होकर गोवा के मरगांव, वास्‍को और मपूसा जाती है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here