भारत के राष्‍ट्रीय राजमार्गों से जुड़ी दिलचस्‍प बातें Interesting Facts About The National Highways Of India

0
18


कुल लंबाई

कुल लंबाई

P.C: Stage 7 Photography

वर्तमान में एक्सप्रेसवे, ग्रामीण और जिला सड़कों से बंधे भारतीय राजमार्गों की कुल लंबाई लगभग 33 किलोमीटर है।

सबसे लंबा हाईवे

सबसे लंबा हाईवे

P.C: Bruno Bergher

नेशनल हाईवे नेटवर्क ऑफ इंडिया कई शहरों, कस्बों, जिलों और यहां तक कि गांवों को जोड़ने वाले राजसी विस्तृत राजमार्गों का एक जटिल संपर्क है। जम्मू और कश्मीर में श्रीनगर से तमिलनाडु के सुदूर दक्षिण कन्याकुमारी तक चलने वाला एनएच 44, भारत का सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग है जिसकी कुल दूरी 3,745 किलोमीटर है। इस राजमार्ग से कश्मीर से कन्याकुमारी तक विविध परिदृश्यों के माध्यम से पहुंचा जा सकता है।

सबसे छोटा हाईवे

सबसे छोटा हाईवे

P.C: Tobias Freeman

देश के सबसे छोटे राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 118 और एनएच 548 हैं। एनएच 118 महज़ 5 किमी लंबे ये हाईवे पूर्व झारखंड राज्य के कस्बों आसनबनी और जमशेदपुर को जोड़ता है। एनएच 548 लगभग 5 किमी लंबा महाराष्ट्र राज्य का हाईवे है। यह वास्तव में एनएच 48 का प्रेरित रोड़ है।

कुल राजमार्गों की संख्‍या

कुल राजमार्गों की संख्‍या

P.C: NeONBRAND

दुनिया के दूसरे सबसे बड़े सड़क नेटवर्क के रूप में लोकप्रिय है भारत का राजमार्ग एवं इस देश में 200 से अधिक राष्ट्रीय राजमार्ग हैं। लगभग 101,011 कि.मी की संचयी लंबाई के साथ भारतीय सड़क नेटवर्क की कुल लंबाई 1,31,899 किलोमीटर है।

सबसे लंबा संगम इंटरचेंज

सबसे लंबा संगम इंटरचेंज

P.C:Zainal Azrin Mohamad Saari

अद्भुत भारतीय सड़क नेटवर्क में क्लोवरलीफ़ इंटरचेंज भी शामिल हैं। सभी क्लोवरलीफ़ इंटरचेंजों में सबसे लंबा तमिलनाडु के चेन्नई में है। काठीपारा जंक्शन या काठीपारा का क्लोवरलीफ़ देश का सबसे लंबा क्लोवरलीफ़ इंटरचेंज है और इसे एशिया में भी सबसे बड़े क्लोवरलीफ़ फ्लाईओवर के रूप में दर्ज दिया गया है।

उच्चतम ऊंचाई वाला राजमार्ग

उच्चतम ऊंचाई वाला राजमार्ग

P.C: Jose Antonio Jiménez Macías

ऊबड़-खाबड़ हिमालयी तिरछी पहाड़ियों पर भारतीय सड़क नेटवर्क की सर्पीली पटरियां हमें पर्वतीय शहरों और शहरों से जुड़े रहने में मदद करती हैं। लेह-मनाली राजमार्ग उच्चतम ऊंचाई वाला मोटर राजमार्ग है जो हिमाचल प्रदेश के शिमला शहर को जम्मू और कश्मीर के लेह से जोड़ता है। यह मोटरेबल हाईवे दुनिया का दूसरा सबसे ज्यादा ऊंचाई वाला मोटर हाईवे भी है।

मील के पत्‍थर

मील के पत्‍थर

P.C: Matt Batchelor

सड़क मार्ग से यात्रा करते हुए राजमार्गों पर पड़ने वाले अलग-अलग रंगों मील के पत्थर को तो आपने देखा ही होगा। भारतीय राजमार्ग में तीन अलग-अलग रंग के मील के पत्थर लगाए गए हैं। राष्ट्रीय राजमार्गों के लिए पीले और सफेद रंग का कोड दिया गया है, राज्य राजमार्गों के लिए हरे और सफेद और अंतिम रूप से शहर के राजमार्गों के लिए काले और सफेद रंग का कोड है। मीलों की संख्या इंगित करने वाले ये छोटे-छोटे मील के पत्थर आपकी यात्रा को सुगम बनाते हैं।

कुल राजमार्गों की संख्‍या

कुल राजमार्गों की संख्‍या

P.C: Jason Blackeye

भारतीय राजमार्ग सड़क नेटवर्क के प्राथमिक राजमार्गों को दो अंकों में गिना जाता है। उत्तर से दक्षिण की ओर चलने वाले राजमार्ग को युग्‍म (ईवन) नंबर दिए गए हैं जबकि पूर्व से पश्चिम तक चलने वाले राजमार्गों को विषम संख्या दी गई है। इसके अलावा, तीन अंकों की संख्या वाले सभी राजमार्ग शाखाएं हैं, जो प्राथमिक दो अंकों वाले राजमार्ग से जुड़ती हैं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here